कोरोना दौर में सुरक्षित मातृत्व पर वीडियों के माध्यम से दी जानकारी

राजसमन्द.K.K.Rathore/ @www.rubarunews.com- कोविड-19 के दौर में माता व बच्चा सुरक्षित रहे व महामारी से बचाव के लिए दोनों की देखभाल किस तरह से की जा सकती है | इससे जुड़ी हुई सही जानकारी उन तक पहुंचाने के लिए अभियान के तहत जतन संस्थान द्वारा सुरक्षित मातृत्व गठबंधन राजस्थान के साथ मिलकर व चेतना संस्थान अहमदाबाद, व्हाईट रिबन एलायंस के मार्गदर्शन में राजसमन्द जिले के रेलमगरा ब्लॉक में गर्भवती व धात्री महिलाओं को नवीन तरीको का उपयोग करते हुए जिसमें की छोटे-छोटे वीडियो के माध्यम से जानकारी पहुंचाने का कार्यक्रम बनाया गया | कार्यक्रम में कुल सात वीडियो क्लिप बनाई जिनमें कोरोना संक्रमण काल में “प्रसव पूर्व देखभाल, प्रसव के दौरान, प्रसव के पश्चात, स्तनपान, शिशु की देखभाल, दुर्व्यवहार व भेदभाव रहित देखभाल व प्रसव का सकारात्मक अनुभव आदि विषय शामिल थे | इस अभियान की शुरुआत 22 जून से आई.सी.डी.एस. के साथ आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, आशा सहयोगिनी व सरपंच वार्डपंच के साथ मिलकर की गयी | कार्यकर्ताओं ने गर्भवती व धात्री महिलाओं के क्लस्टर लेवल पर 873 महिलाओं को जोड़कर कुल नौ व्हाट्स अप ग्रुप बनाये गए व उनको नियमित अन्तराल पर वीडियों जारी किये गये | कार्यालय प्रभारी सुमित्रा मेनारिया ने बताया कि जिन महिलाओं के पास एंड्राइड फोन नहीं था उन 367 महिलाओं को लिस्ट आउट कर उनको व्यक्तिगत वीडियो दिखाने के लिए ख़ुशी साथी, समानता साथी यूथ ग्रुप, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व आशा सहयोगिनी का सहयोग लिया गया व साथ ही फील्ड कार्यकर्ताओं ने भी जुड़कर उन्हें सातो वीडियो दिखाए | कार्यक्रम समन्वयक कन्हैया लाल जी ने बताते है कि कोरोना के दौर में महिलाएं ज्यादा प्रभावित हुई है उनमें भी गर्भवती व धात्री महिलायें  इस दौर में और ज्यादा प्रभावित हुई है साथ ही इस अभियान से गर्भवती व धात्री महिलाओं को स्वास्थ्य सुविधाएं प्राप्त करने में काफी सहयोग मिला | यह अभियान राजसमन्द जिले के अलावा राजस्थान के 11 जिलो में अन्य संस्थाओं के साथ भी संचालित किया जा रहा है |

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

क्या बॉलीवुड सिर्फ फिल्म प्रमोशन के लिए जेएनयू के साथ है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close