पौधारोपण कर प्रकृति संरक्षण में अपना योगदान दें-बिरला

कोटा.K.K.Rathore/ @www.rubarunews.com- 98 वें अन्तर्राष्ट्रीय सहकारिता दिवस के शुभ अवसर पर ‘‘जलवायु संरक्षण के लिए सहकारिता‘‘ की थीम पर नागरिक सहकारी बैंक के अध्यक्ष राजेश बिरला,कोटा जिला सहकारी हाॅलसेल उपभोक्ता भण्डार के अध्यक्ष हरिकृष्ण बिरला, नागरिक सहकारी बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सौभागमल मीणा एवं कर्मचारीयों ने बैंक एवं उपभोक्ता भण्डार परसिर में पौघें रौपं कर पेड बनाने का संकल्प लिया।
पौधारोपण के पश्चात के राजेश बिरला ने संबोधित करते हुऐ कहा कि जलवायु परिवर्तन एक विश्वव्यापी समस्या बन चुकी है। जो सभी राष्ट्रों के लिये एक ज्वलंत समस्या है।जलवायु संरक्षण के आधार पर पृथ्वी पर मनुष्य एवं जीव जन्तु सुरक्षित रह सकते है। सहकारिता का पर्यावरण पर्यवेक्षण एवं संरक्षण में महत्वपूर्ण योगदान है।
आज के दिन भारत ही नहीं विश्व की समस्त सहकारी संस्थाओं ने जलवायु संरक्षण विस्तृत विचार विमर्श कर प्र्यावरण संरक्षण की दिशा में कार्य करने का निश्चय किया है। बिरला ने अन्र्तराष्ट्रीय सहकारिता दिवस पर प्रत्येक सहकारी क्षेत्र मेे कार्य करने वाले लोगो केा आहवान किया कि सहाकरिता कि भावना के साथ सहाकारी समितियाॅ उचित स्थानों पर पौधारोपण करने एवं जलवायु संरक्षण कि दिशा मे कार्य करे।राजेश बिरला ने इस अवसर राजस्थान के सहकारी रजिस्ट्रार को अर्तराष्ट्रीय सहकारिता दिवस की शुभाकामनाऐं दी।
कोटा जिला सहकारी हाॅलसेल उपभोक्ता भण्डार के अध्यक्ष हरिकृष्ण बिरला ने कहा कि प्रकृति एवं मानव का अटूट नाता है लेकिन विकास कि दोड में प्रकृति का दौहन लगातार होता रहा है जिससे कई वैश्विक समस्याओें का हमें समाना करना पड़ रहा है। प्रकृति का संरक्षण कर हम कई समस्याओं का समाधान करने के साथ ही आने वाली पीढीयों को सुरक्षित भविष्य दे सकते है। ऐसे में हर व्यक्ति अधिक से अधिक पौधे लगाकर पेड बनने तक उनकी सेवा करें।
नागरिक सहकारी बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने कहा कि पौधारोपण वर्तमान समय की जरूरत होने के साथ ही भविष्य की आवश्यकता भी है। पौधारोपण एवं प्रकृति का संरक्षण ही जलवायु परिवर्तन की समस्या का एकमात्र समाधान है इसके लिऐ विश्व के सभी देश अपने अपने स्तर पर प्रयास कर रहे है। प्रकृति संर्वधन एवं संरक्षण मंें एक पौधा लगाकर अपना योगदान देना चाहिए।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

क्या बॉलीवुड सिर्फ फिल्म प्रमोशन के लिए जेएनयू के साथ है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close