रात को लिए फेरे और सुबह उठाया आत्मघाती क़दम -पाली पुल से चंबल में कूदी नव-वधु

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com-उसने बीते शनिवार  की रात सुहाग के जोड़े में सज-धज कर अपने वर के साथ सात फेरे लिए। पवित्र अग्नि को साक्षी मानते हुए सात जन्म तक साथ निभाने का वचन दिया। यह और बात है कि सारी रस्में और कसमें एक रात की बात बनकर रह गई।  रविवार की सुबह पिता के घर से विदा होने के बाद उसने ससुराल की देहरी तक पहुंचने का इंतज़ार नहीं किया। उसने रास्ते में चंबल के पुल पर बहाने से कार रुकवाई और नदी में छलांग लगा दी। यह अप्रत्याशित सी घटना इतनी तेजी से घटी कि पति सहित किसी को भी कुछ सोचने समझने तक का मौका नहीं मिला और नई नवेली दुल्हन नदी की धाराओं में दूर बह गई।
दुल्हन ने कार रुकवाने के लिए उल्टी आने का बहाना बनाया। बताया जा रहा है कि जब ड्राइवर ने उसकी नहीं सुना तो उसने स्टेयरिंग पकड़कर कार रोकने की चेतावनी भी दी। इसके बाद जैसे ही कार धीमी हुई वो बड़ी तेजी से नीचे उतरी और देखते ही देखते पुल की रेलिंग से चंबल नदी में कूद गई।
यह हृदयविदारक घटना रविवार की सुबह 6:30 बजे राजस्थान और मध्य प्रदेश को जोड़ने वाले पाली के पुल पर घटी। जानकारी के अनुसार श्योपुर तहसील में ही चंबल के किनारे बसे ग्राम साडा का पाड़ा निवासी दीपक पुत्र जगदीश सैनी की बारात शनिवार को राजस्थान की खण्डार तहसील के अंतर्गत ग्राम अलापुर गई थी। जहां दीपक का विवाह 20 वर्षीय अंजू पुत्री रामदयाल सैनी के साथ हुआ था। शादी के बाद सुबह 6 बजे बारात साडा का पाड़ा के लिए विदा हुई थी। इससे पहले कि बारात दुल्हन के साथ अपने गांव पहुंच पाती, रास्ते मे ही यह घटनाक्रम घटित हो गया।
#तलाश_में_जुटी_दो_राज्यों_की_पुलिस
नई दुल्हन के गहरी नदी में समा जाने की सूचना मिलते ही दोनों पक्षों के तमाम लोग पाली पुल पर पहुंच गए। वहीं राजस्थान के खंडार और मध्यप्रदेश के मानपुर थानांतर्गत सामरसा चौकी की पुलिस गोताखोरों के साथ दुल्हन की तलाश में जुट गई। समाचार लिखे जाने तक पुलिस की देखरेख में गोताखोर नदी को खंगाल रहे थे।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

क्या बॉलीवुड सिर्फ फिल्म प्रमोशन के लिए जेएनयू के साथ है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close