क्वारन्टीन प्रबंधन के संबंध में दिए दिशा निर्देश

बूंदी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com>> जिले में कोविड-19 के दौरान क्वारन्टीन व्यवस्था के संबंध में जिला स्तरीय क्वारन्टीन कमेटी की बैठक जिला कलेक्टर अन्तर सिंह नेहरा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में विधायक अशोक डोगरा, पुलिस अधीक्षक शिवराज मीणा एवं कमेटी के अन्य सदस्य मौजूद रहे।
बैठक में कमेटी सदस्य विधायक अशोक डोगरा ने बूंदी के कोरोना संक्रमण से मुक्त रहने पर जिला प्रशासन टीम एवं पुलिस की सराहना की और कहा कि समन्वित प्रयासों से जिले को आगे भी कोरोना से मुक्त रखने के लगातार प्रयास होंगे.
जिला कलेक्टर ने कोविड केयर सेंटर, क्वारन्टीन व्यवस्थाओं इत्यादि के संबंध में निर्देश दिए। जिला कलेक्टर नेनिर्देश दिए कि होम क्वारन्टीन पर अधिक जोर दिया जाए। जहां असुविधा की स्थिति हो, वहीं संस्थागत क्वारन्टीन किया जाए। क्वारन्टीन स्थल में सभी व्यवस्थाएं बिजली, पानी, सफाई इत्यादि माकूल हो।
कोविड केयर सेंटर में हों उचित प्रबंध
जिला कलेक्टर ने कहा कि जिला स्तर पर बनाए गए कोविड केयर संेटर उत्सव मैरिज गार्डन में आवश्यक व्यवस्थाएं एवं संसाधन सुनिश्चित हो ताकि पॉजिटिव केस मिलने पर उपचार शुरू होने तक उसे यहां रखा जा सके। उन्होंने कहा कि ब्लॉक स्तरीय कोविड केयर सेंटर(सीएचसी) पर भी इसी तरह प्रबंध सुनिश्चित हो।
लक्षण दिखने पर ही करें क्वारन्टीन
जिला कलेक्टर ने कहा कि लक्षण दिखने पर ही व्यक्ति को 14 दिन के लिए क्वारन्टीन किया जाए तथा पूर्ण निगरानी रखी जाए। ड्यूटी पर लौटे सरकारी कर्मचारी यदि पूर्ण स्वस्थ हैं, कोई लक्षण नहीं दिखे तो क्वारन्टीन करने की जरूरत नहीं है।
जनप्रतिनिधियों का है वरदहस्त
जिला कलेक्टर ने कहा कि जिले को इस महामारी के दौर में सुरक्षित रखने तथा जरूरतमंदों की मदद में जनप्रतिनिधियों की बड़ी भूमिका रही है। इसके लिए साधुवाद देते हुए उन्होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में माननीय लोकसभा अध्यक्ष  ओम बिरला, खेल राज्य मंत्री  अशोक चांदना, बूंदी विधायक  अशोक डोगरा तथा केशोरायपाटन विधायक श्रीमती चंद्रकांता मेघवाल ने आमजन की खातिर दिल खोलकर सहयोग किया है।उन्होंने अपील की कि जनप्रतिनिधिगण अपने व्यापक नेटवर्क की मदद से संक्रमण को रोकने की व्यवस्थाओं, क्वारन्टीन प्रबंधन में भी मददगार बने ताकि जिले की संक्रमण से सुरक्षा बेहतर हो सके।
कोई भूखा मिले तो जरूर बताएं, राशन की कमी नहीं
जिला कलेक्टर ने क्वारंटीन कमेटी सदस्यों एवं अन्य सभी अधिकारियों, कर्मचारियों से कहा है कि उनकी जानकारी में कोई लाचार, जरूरतमंद परिवार सामने आए तो प्रशासन को बताएं। राशन किट पर्याप्त संख्या में मौजूद हैं। किसी को भी रहने की नोबत नहीं आने दी जाएगी. बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर एयू खान, सीईओ जिला परिषद मुरलीधर प्रतिहार एवं अन्य अधिकारी मौजूद रहे I

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

क्या बॉलीवुड सिर्फ फिल्म प्रमोशन के लिए जेएनयू के साथ है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close