निजीकरण के विरोध में विद्युत कर्मचारी उतरे मैदान में

श्योपुर (प्रत्यक्षा सक्सेना) @www.rubarunews.com- श्योपुर सहित पूरे मध्यप्रदेश में विद्युत एक्ट में निजीकरण के लिए किए जा रहे संशोधन के विरोध में मध्यप्रदेश विद्युत मंडल अभियंता संघ मैदान में उतर आया है। विद्युत मंडल का निजीकरण व पुरानी पेंशन बहाली को लेकर बिजली विभाग के अधकारी ओर कर्मचारी कार्य का बहिष्कार कर टेंट लगाकर कार्यालय परिसर में बैठ गए है। वही बिजली कम्पनी के अधिकारियों ने वैकल्पिक व्यवस्था कर बिजली सेवाएं सुचारू रखे जाने की भी बात कही है।

यह बहिष्कार आंदोलन मध्यप्रदेश युनाइटेट फोरम फार पावर एम्पलाईज एंड इंजीनियर्स के आव्हान पर की जा रही है। इसमें बिजली एक्ट में संशोधन व केंद्र और राज्य स्तर पर चल रही निजीकरण की कार्यवाही के विरोध में एवम पुरानी पेंशन बहाली के लिए देश भर के लगभग 15 लाख कर्मचारी व इंजीनियर आज  राष्ट्रव्यापी हड़ताल पर मैदान में उतर आए है एवम बिजली सम्बन्धी कार्य नही करेंगे। संघ का कहना है कि केंद्र सरकार नए बिल के माध्यम से बिजली आपूर्ति निजी घरानों को सौंपने की तैयारी कर रही है।

इनका कहना है
आज की देश व्यापी कार्य के बहिष्कार हड़ताल के दौरान सिर्फ बिजली सम्बन्धी अति आवश्यक कार्य को निपटाया जाएगा
गौरव पाटोदिया
प्रबन्धक
मानव संसाधन विभाग श्योपुर

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

क्या बॉलीवुड सिर्फ फिल्म प्रमोशन के लिए जेएनयू के साथ है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close