जनपद पंचायत अधिकारियों की सह पर ग्रामीण क्षेत्रों में जमकर भ्रष्टाचार

सरपंच तेंतना ऊषा ने जनपद पंचायत के अधिकारियों की मिली भगत का आरोप

दतिया ,@rubarunews.com>>>>  जनपद पंचायत ceo ओर जिला पंचायत ceo नही कर रहे कार्यवाही एक ओर ग्रामीण रोजगार सहायक पर लगे भ्रष्टाचारी के आरोप भाण्डेर जनपद में ब्रजेन्द्र कुशवाहा सालोंन-A के सरपंच सचिब रोजगार सहायक सहित भाण्डेर ceo पर लगा चुके हैं भ्रष्टाचारी के आरोप अब एक ओर मामला आया सामने तेतना सरपंच ने लगाए अपने ही ग्राम के रोजगार सहायक पर भ्रष्टाचारी के आरोप दिया कलेक्टर को आवेदन।

जनपद पंचायत भांडेर के अधिकारियों पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप जनपद पंचायत अधिकारियों की शह पर ग्राम पंचायत तैतना में ग्रामीण रोजगार सहायक द्वारा किया जा रहा जमकर भ्रष्टाचार, भ्रष्टाचार की लिखित शिकायत करने पर भी नहीं हो रही कार्यवाही, पहले भी ब्रजेन्द्र कुशवाहा स्वच्छाग्राही लगा चुके हैं ।

 

जनपद पंचायत ceo ओर ग्राम पंचायत सालोंन A के सरपंच सचिव और रोजगार सहायक पर भ्रष्टाचारी का आरोप दे चुके हैं कई आवेदन लेकिन नही हुई कोई कार्यवाही, ग्राम पंचायत तेतना सरपंच ने लिखित आवेदन देकर शिकायत की तो नही हुई कोई कार्यवाही क्या जनपद पंचायत अधिकारी फेंक देते हैं आवेदन को डस्टबिन में , जनपद पंचायत भांडेर मुख्य कार्यपालन अधिकारी को ग्राम पंचायत तेतना में हो रहे भ्रष्टाचार की शिकायत करने पर भी नहीं हुई कार्यवाही।

 

ग्राम पंचायत तेतना सरपंच श्रीमती उषा ने लगाए ग्रामीण रोजगार सहायक पर भ्रष्टाचारी के आरोप और कहा जनपद पंचायत भांडेर में बैठे अधिकारी जानते हैं कि ग्रामीण क्षेत्रों में हो रहा भ्रष्टाचार लेकिन फिर भी नहीं कर रहे कोई कार्यवाही आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि भाण्डेर अनुभाग अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत तेतना कि सरपंच श्रीमती उषा ने लिखित आवेदन देकर दतिया कलेक्टर महोदय को ग्राम पंचायत में हो रहे ग्रामीण रोजगार सहायक के द्वारा भ्रष्टाचार से अवगत कराया है।

 

ग्राम की सरपंच का आरोप है कि ग्रामीण रोजगार सहायक मनरेगा कार्यों सहित सीसी निर्माण गौशाला निर्माण सहित अन्य कार्यों में भ्रष्टाचार कर रहा है जिसकी शिकायत करने पर जनपद पंचायत भांडेर ceo सहित जिला पंचायत अधिकारी कोई कार्यवाही नहीं कर रहे , सरपंच ने आरोप लगाते हुए बताया कि ग्राम पंचायत में हो रहे मनरेगा कार्यो मैं ग्रामीण रोजगार सहायक के द्वारा अपने भाई चाचा भतीजे का नाम बिना सरपंच को सूचित किए दर्ज करा कर उनके नाम से भुगतान किया जा रहा है और शासकीय कार्यों में भ्रष्टाचार कर शासन को लाखों की चपत लगा रहा ग्रामीण रोजगार सहायक, जिसकी लिखित शिकायत कई बार भाण्डेर मुख्य कार्यपालन अधिकारी को कर चुके हैं लेकिन आज तक हमारे आवेदन पर कोई कार्यवाही नहीं की इसलिए आज हमें दतिया कलेक्टर की शरण में आना पड़ा।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

क्या बॉलीवुड सिर्फ फिल्म प्रमोशन के लिए जेएनयू के साथ है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close